संत रविदास मंदिर के पुनर्निर्माण की मांग को लेकर बहुजन समाज ने प्रदर्शन किया

image
Description

धीरज कुमार

नई दिल्ली। दिल्ली के तुगलकाबाद में संत रविदास मंदिर के पुनर्निर्माण और एक महीने पहले 21 अगस्त को मंदिर निर्माण के मामले में गिरफ्तार हुए युवाओं की रिहाई के लिए बहुजन समाज के समर्थकों ने जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान सरकार से मांग की गई कि मंदिर मूल स्थान पर ही बनाया जाए। चेतावनी दी कि अगर गिरफ्तार युवाओं को नहीं छोड़ा गया, तो आंदोलन और तेज होगा। संत गुरु रविदास जयंती समारोह समिति तुगलकाबाद के बैनर तले बहुजन समाज के समर्थक जंतर-मंतर पर बड़ी संख्या में एकत्रित हुए। मार्च को पुलिस बेरिकेडिंग के दायरे में रखा गया और भारी पुलिस बल की भी तैनाती की गई।
प्रदर्शनकारियों ने सरकार पर आरोप लगाया कि बहुजन समाज की आस्था को ठेस पहुंचाने के इरादे से तुगलकाबाद में दशकों से स्थित संत रविदास मंदिर को तोड़ा गया। मंदिर के पुनर्निर्माण की मांग को लेकर जब एक महीने पहले देशभर का बहुजन समाज दिल्ली के रामलीला मैदान में जमा हुआ, तो सरकार को बहुजन समाज की ताकत का पता लग गया।
इसके बाद जब श्रद्धालु संत रविदास के मंदिर के स्थान पर आशीष लेने के लिए जाने लगे, तो पुलिस ने 96 युवाओं को गिरफ्तार कर लिया। इन युवाओं को जमानत भी नहीं दी गई है। जेल में बंद युवाओं को सरकार को छोड़ना होगा, क्योंकि उन्होंने कोई अपराध नहीं किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *